Possum Algorithm क्या है ?

Possum Algorithm क्या है और इससे वेबसाइट या ब्लॉग कैसे प्रभावित हो सकता है ?

दोस्तों आपने आप एक ब्लॉगर हो या फिर किसी भी वेबसाइट का SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) करते हो तो आपने कभी-भी SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के अंतर्गत Possum Algorithm का नाम तो सुना ही होगा तो आपने कभी-भी Possum Algorithm के बारे में जानने की कोशिश कि Possum Algorithm क्या है और इससे वेबसाइट या ब्लॉग कैसे प्रभावित हो सकता है. 


नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है कि, SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के अंतर्गत Possum Algorithm क्या है और इससे वेबसाइट या ब्लॉग कैसे प्रभावित हो सकता है तो तो आज हम केवल SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के अंतर्गत Possum Algorithm के बारे में ही जानेगें –

FRED ALGORITHM क्या है ?
RANK BRAIN ALGORITHM क्या है
Google algorithm की सम्पूर्ण जानकारी
google

Possum Algorithm क्या है-

google पर Possum Algorithm का अपडेट 1 / 9 /2016 आया था Possum Algorithm के अनुसार अब आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को लोकल लिस्टिंग में जोड़ना अनिवार्य है Google Algorithm के अंतर्गत Possum Algorithm के अनुसार यदि आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग को गूगल में रैंक करना चाहते हो तो आपको अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को अपनी Locally जगह पर लिस्टिंग करनी होगी जिससे आपके लोकल के यूजर को आपकी सर्विस का पता चलेगा जिससे आपका business grow होगा , इस अल्गोरिथम के अनुसार गूगल उस वेबसाइट या ब्लॉग को अपने सर्च रिजल्ट में सबसे ऊपर लायेगा जिसका locally business यूजर के स्थान के बहुत करीब  हो ,

Possum Algorithm क्या है ?

       जैसे कि मैंने गूगल के सर्च इंजन में “Sweet Gwalior” सर्च किया है तो उसने मुझे केवल वो रिजल्ट दिखा दिया जिसकी वेबसाइट या ब्लॉग के  business की local listing हुई है और उसका business मेरे स्थान से बहुत काम दूरी पर है अब में आसानी से इनसें कॉन्टैक्ट करके इनकी सर्विस का लाभ ले सकता हूँ और इनसे मिल भी सकता हूँ,

          तो इस तरह किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग की local listing कर देने से वेबसाइट या ब्लॉग को तो एक विजिटर मिला और साथ ही साथ उस विजिटर को अपने locally जगह पर उसे वो सर्विस मिल गई.

कहने के मतलब में ही गूगल की Possum Algorithm एक यूजर को ध्यान में रखकर बनी हुई है इससे किसी भी यूजर को किसी भी तरह की सर्विस लेने के लिए गूगल पहले वो स्थान उसको बतायेगा जो स्थान उसके स्थान से बिल्कुल करीब हो,

             वैसे देखा जाये तो जब आप गूगल के सर्च इंजन में अपने प्रश्न का result देखते है तो आपको बहुत सी वेबसाइट या ब्लॉग उस सर्विस देने वाली कंपनी की लिस्ट आपको दिखती तो आप ज्यादातर सबसे ऊपर वाली वेबसाइट या ब्लॉग पर क्लिक करते हो तो इसी कारण नीचे वाली कंपनी को उसके लोकल यूजर नहीं मिल पाते है तो इस बात को भी ध्यान में रखकर इस  Algorithm का निर्माण हुआ है जिससे और भी वेबसाइट या ब्लॉग की कंपनी का locally लेवल पर उनका business Grow हो. 

“ध्यान दें – गूगल की  Possum Algorithm और Pigeon Algorithm दोनों ने  ही वेबसाइट या ब्लॉग की locally Listing को ज्यादा महत्व दिया है “

वेबसाइट या ब्लॉग की local listing करने से वेबसाइट या ब्लॉग को क्या-क्या फायदे हो सकते है –

  • किसी भी वेबसाइट या ब्लॉग की local listing होने से आपकी वेबसाइट या ब्लॉग के माध्यम से आपके ब्लॉग या वेबसाइट का local यूजर आपसे कांटेक्ट कर सकता है आप से मिल सकता है.
  • वेबसाइट या ब्लॉग की local listing कर देने से आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग का एक अच्छा SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) कर रहे हो।
  • वेबसाइट या ब्लॉग की local listing  होने से आपके वेबसाइट या ब्लॉग का local level का traffic में बढ़ता है और आपकी वेबसाइट या ब्लॉग की वजह से आपका business grow होता है।
  • वेबसाइट या ब्लॉग की local listing होने से आपकी वेबसाइट या ब्लॉग गूगल की algorithm के अधिन कार्य कर रहा है.

आशा करते है कि SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के अंतर्गत Possum Algorithm क्या है और इससे वेबसाइट या ब्लॉग कैसे प्रभावित हो सकता है और इससे सम्बंधित जानकारी आपको अच्छे से समझ आ गई हो आप इसी तरह की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करते रहिये। 


 

Spread the love

One Reply to “Possum Algorithm क्या है ?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*