MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी

दोस्तों यदि आप कंप्यूटर की दुनियाँ में नये हो औरअभी-अभी कंप्यूटर सीख रहे है आपने कंप्यूटर की Windows का नाम तो सुना होगा क्योंकि कंप्यूटर सीखने से पहले Windows को सीखना और समझना बहुत जरुरी है यह समझों कि Windows को सीखना ही कंप्यूटर को सीखना माना जाता है


नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी के बारे में तो आज हम केवल MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी के अंतर्गत आने वाले हर वो फंक्शन को जानेगें जो केवल MS WINDOWS के अंतर्गत आता हो आज हम हर वो फंक्शन को पढ़गे और सीखेगें जो MS WINDOWS से सम्बंधित हो।

 

control panel setting की सम्पूर्ण जानकारी
COMPUTER KEYBOARD की सम्पूर्ण
Recycle bin की सम्पूर्ण जानकारी
www.google.com

 

 

“MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी”

  • WINDOWS
  • TASKBAR
  • MY COMPUTER
  • RECYCLE BIN
  • ACTION CENTER
  • CONTROL PANEL
  • NOTPAD
  • WORDPAD
  • SNIPING TOOL
  • PAINT

WINDOWS

 

विंडोज एक ऑपरेटिंग सिस्टम है जो (GUI ) GRAPHICAL USER INTERFACE पर आधारित है देखा जाये तो दुनियां के 80 प्रतिशत कंप्यूटर में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का ऑपरेटिंग सिस्टम का उपयोग किया जा रहा है मैक्रोस्फोट ने 1985 को अपना पहला ऑपरेटिंग सिस्टम मार्किट में उतरा था जिसका नाम माइक्रोसॉफ्ट डिस्क ऑपरेटिंग सिस्टम / MS DOS था।

यदि देखा जाये तो हम कंप्यूटर में बिना ऑपरेटिंग सिस्टम के कोई भी कार्य नहीं कर सकते है क्योंकि कंप्यूटर पर सभी कार्य ऑपरेटिंग की बजह से होते है क्योंकि कंप्यूटर में ऑपरेटिंग सिस्टम सभी कार्य को कंट्रोल कर सकता है कंप्यूटर में जितने भी सॉफ्टवेयर चलते है वो विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम की वजह से चलते है। 

TASKBAR

MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी

जब आप अपने कंप्यूटर चालू करते है तो कंप्यूटर चालू होने के बाद Desktop के सबसे नीची पट्टी को Taskbar कहा जाता है Taskbar हमेशा Current Files या प्रोग्रामों को दर्शाती है जो कंप्यूटर पर खुले हो Taskbar में Start Button और कुछ Icon जैसे Clock, Volume, Internet, Antivirus होते है. जब हम कंप्यूटर के किसी Application पर work करते है तो उसे कंप्यूटर पर Minimize करते है तो वो Application Taskbar में ही जाकर दिखती है कंप्यूटर में Taskbar को कोई स्पेशल काम नहीं है Taskbar में केवल करंट में उपयोग किये जा रहे सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम बने रहते है जब तक की हम उस प्रोग्राम को बंद नहीं कर दें।

MY COMPUTER

 

My Computer Desktop का बहुत महत्वपूर्ण Icon है जिसमे हमें सभी Hard disk Drive, DVD Drive, USB, Document Icon मिलते है जिन्हें हम आवश्यकता के अनुसार उपयोग कर सकते है. my computer Icon Open करने के लिए आप Desktop बने my Computer Icon पर Double Click करना होगा और फिर आपके सामने my Computer Icon Open हो जायेगा और फिर आप अपने आवश्यकतानुसार इस option का उपयोग कर सकते है.

RECYCLE BIN

जब हम अपने कंप्यूटर के Desktop या कंप्यूटर के अन्य फोल्डर या ड्राइव से file या फोल्डर को delete करते है तो वो file या फोल्डर डिलीट होने के बाद सीधे Recycle bin icon में जाकर स्टोर हो जाती है यदि यह फाइल या फोल्डर हमारे लिए काफी महत्वपूर्ण है और यह हमसे गलती से डिलीट हो गया है तो हम उस delete file या फोल्डर को वापस फिर से कंप्यूटर के फोल्डर या ड्राइव में लाना चाहते है तो हम Recycle bin icon की मदत से उस delete file या फोल्डर को अपने कंप्यूटर में फिर से वापस ला सकते है

CONTROL PANEL

 

MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी

Action Center :- कंप्यूटर के “control panel setting” में Action center का काम केवल कंप्यूटर से सम्बंधित Activity या Updation की जानकारी user को massage के माध्यम से देना.

जब आपके कंप्यूटर में किसी प्रकार का कोई updation हो रहा हो या फिर आपके कंप्यूटर में कोई activity हो रही हो तो Action Center उस updation या उस Activity से सम्बंधित कोई भी जानकारी को massage के माध्यम से user तक पहुँचाना कंप्यूटर में Massage देखते ही user को कंप्यूटर में हुई उस activity या updation की जानकारी प्राप्त हो जाती है.

Troubleshooting :- यदि आपको कंप्यूटर में कार्य करते समय Hardware , Device, Networking से सम्बंधित कोई problem आ रही है तो आप control panel में Troubleshooting option के माध्यम से आप कंप्यूटर के Hardware , Device, Networking में आ रही problem को देख सकते है और पता लगा सकते हो Troubleshooting फंक्शन  के माध्यम से उस problem को जान सकते हो और उस problem को Troubleshooting के माध्यम से ठीक भी कर सकते हो.

Device manager – कंप्यूटर के  “control panel setting” में Device manager option के माध्यम से आप कंप्यूटर की Device को देख सकते हो जैसे –

Keyword
Mouse
Printer
USB
Bluetooth
Monitor
Ports
Processor
Display Adapter 
Human Interface Device  

User Account – कंप्यूटर के control panel setting में user account option के माध्यम से आप अपने कंप्यूटर में अपने बच्चों या अन्य व्यक्ति का user account बना सकते हो यदि आप अपने कंप्यूटर में अपने बच्चों या अन्य व्यक्ति का user account बना देते हो तो वो आपके कंप्यूटर Desktop file या फोल्डर या फिर सॉफ्टवेर को नहीं देख सकता है, क्योंकि user का user Account बनते ही Windows का partition बदल जाता है जब user account वाला अपने कंप्यूटर use करेगा तो उसको वही सॉफ्टवेर दिखेंगे जब कंप्यूटर format होने के बाद दिखते है.

Parental control – कंप्यूटर के control panel setting में Parental control फंक्शन कंप्यूटर में बहुत उपयोगी फंक्शन है इसके माध्यम से आप कंप्यूटर में किसी भी User Account वाले व्यक्ति पर आप कंप्यूटर चलाने की एक Limitation लगा सकते है जब आप कंप्यूटर में अपने बच्चों या अन्य व्यक्ति का एक user account बना देते हो तो आप उस पर कंप्यूटर चालाने की एक लिमिट सेट कर सकते हो जैसे- कंप्यूटर कितने टाइम तक चला सकता है , कंप्यूटर में कौनसी-कौनसी Application software पर कार्य कर सकता है, कंप्यूटर में कौनसे -कौनसे video गेम खेल सकते है. 

Windows Defender – control panel setting के अंदर Windows Defender option का उपयोग कंप्यूटर का स्कैन करने के लिए किया जाता है. Windows Defender का उपयोग करने से पहले आपको Windows Defender को internet के माध्यम से Update करना बहुत जरुरी होता है. यदि आप अपने कंप्यूटर के लिए कोई अच्छा Antivirus नहीं खरीद पा रहे है तो ऐसी परिस्थति में क्या करें तो इसी बात को ध्यान में रखते हुये Microsoft Windows Defender option का निर्माण किया जिसका उपयोग आप Antivirus की जगह पर कर सकते हो Windows Defender का उपयोग उसी प्रकार किया जाता है जिस प्रकार आप एक एंटीवायरस का उपयोग करते है.

Ease of Action Center – control panel setting के अंदर जब आप  Ease of Action Center फंक्शन को खोलेगें तो आपको उसके अंदर चार option दिखाई देगें यह बड़े कमाल के ऑप्शन है और बहुत उपयोगी भी  –

  • Start Magnifier
  • Start on-Screen Keyword
  • Start Narrator
  • Setup High Contrast

Start Magnifier – इस option के माध्यम से आप कंप्यूटर के किसी भी एरिये को आप zoom करके देख सकते हो. Start Magnifier option आपको एक लेंस देता है उसी लेंस को आप जिस स्थान पर लेकर के जायोगे आपको वो एरिया बड़ा दिखेगा.

Start on-Screen Keyword– इस option के माध्यम से आप अपने कंप्यूटर की Display पर on स्क्रीन Keyword ला सकते हो,

यदि आपके पास कोई कंप्यूटर पर कार्य करने के लिए कोई keyword नहीं है तो आप अपने कार्य को करने के लिए On Screen keyword का use कर सकते हो.

Start Narrator– इस option का use केवल यह है की, आप इस option को Activate करने के वाद कंप्यूटर पर mouse का pointer कही पर भी ले जाते हो या फिर कंप्यूटर पर कार्य करते हो तो कंप्यूटर voice के रुप में उस Activity को बतायेगा .

 

Bit Locker Drive Encryption -कंप्यूटर के control panel setting के अंदर Bit Locker Drive Encryption option के माध्यम से आप कंप्यूटर की Hard Disk Drive में Password लगाकर उसे protect कर सकते हो जिससे जब भी कंप्यूटर यूजर आपके कंप्यूटर की हार्ड डिस्क को खोलेगा तो कंप्यूटर उससे पसवर्ड पूछेगा यदि देखा जाये तो यह बहुत अच्छा फंक्शन इससे हम अपने कंप्यूटर किसी भी हार्ड डिस्क ड्राइव में पासवर्ड लगाकर उसे सुरक्षित रख सकते है।

Backup & Restore – कंप्यूटर के control panel setting में Backup & Restore option देखा जाये तो बहुत उपयोगी option है इसकी हेल्प से आप कंप्यूटर की Permanent Delete हुई file को वापस ला सकते है जब आप अपने कंप्यूटर से किसी file या फोल्डर को delete करते हो तो वो Recycling में जाकर स्टोर हो जाता है यदि हमें उस delete किये file या फोल्डर का use करना है तो हम Recycle bin में जाकर फिर से उसे कंप्यूटर में लाया जा सकता है यदि आपने कभी सोचां है की यदि फोल्डर या file Recycle bin से भी delete हो जाये तो कैसे फिर से उस file या फोल्डर को कंप्यूटर में वापस लाया जा सकता है इसके लिए आप Backup & Restore option की हेल्प ले सकते हैं और अपने कंप्यूटर में से Recycle bin से किये delete डाटा को फिर से कंप्यूटर में ला सकते है.

System – कंप्यूटर के अंदर control panel setting  में System फंक्शन  के माध्यम से आप कंप्यूटर की सभी जानकारी को बड़ी आसानी से देख सकते हो जैसे-

  1. computer का Version कौनसा है .
  2. कंप्यूटर किस कंपनी का है.
  3. कंप्यूटर में Ram (Random Access Memory ) कितनी है .
  4. कंप्यूटर कौनसा Processor,
  5. कंप्यूटर किस नाम से है। 
  6. कंप्यूटर कौनसा बिट का 32 या फिर 64 बिट 

Windows Firewall -कंप्यूटर के control panel setting Windows Firewall हमेशा आपके कंप्यूटर को हैकिंग फिक्सिंग स्पैमिंग और virus जैसी खतरनाक चोजों से सुरक्षित रखता है यदि आप अपने कंप्यूटर में internet पर कार्य कर रहे है तो यह आपके कंप्यूटर में internet के माध्यम से जो आने वाले वायरस फोल्डर और file को रोकता है और साथ ही साथ आपके कंप्यूटर जानकारी यह आपके कंप्यूटर को हैकिंग फिक्सिंग जैसी चीजों सुरक्षित रखता है आप हमेशा अपने कंप्यूटर की control panel setting अंदर Windows Firewall जरूर चेक करे की कंप्यूटर के अंदर Windows Firewall ऑन है की ऑफ और कंप्यूटर का Windows Firewall ऑफ है तो उसे जरूर ऑन करें। 

Windows Card Space – control panel setting अंतर्गत Windows Card Space option में हम अपनी personal information स्टोर करके रखते है जिस तरह हमारा एक पहचान पत्र होता है उसी प्रकार हम Windows Card Space option में एक Digital पहचान पत्र बना सकते है. इस Digital पहचान पत्र का उपयोग हम वेबसाइट की सेवाओं या फिर वेबसाइट में Registered होने के लिए किया जाता है.

 

NOTEPAD

MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी

कंप्यूटर के अंदर Notepad एक टेक्स्ट एडिटर सॉफ्टवेयर है Notepad का उपयोग ज्यादातर कंप्यूटर की programming करने के लिए किया जाता है Notepad को कभी भी कंप्यूटर में अलग से इनस्टॉल करने की जरुरत नहीं होती है क्योंकि यह कंप्यूटर में by default install रहता है यह एक सिंपल टेक्स्ट एडिटर है इसके अंदर वो सभी फंक्शन मिलते है जो एक टेक्स्ट एडिटर में होते है Notepad के अंदर आप केवल 65 KB तक की इनफार्मेशन स्टोर कर सकते हो इसके अधिक इनफार्मेशन स्टोर करने के लिए आपको wordpad फंक्शन का उपयोग करना होता है जो की Notepad का एक एडवांस version है Notepad का फाइल extension .TXT होता है और इसका उपयोग करना काफी आसान है.

 

WORDPAD

MS WINDOWS की सम्पूर्ण जानकारी

Wordpad एक notepad सॉफ्टवेर का एक एडवांस version सॉफ्टवेर है, क्योंकि इसमें notepad से ज्यादा सुविधायें दी गई है इस सॉफ्टवेर को word प्रोसेसिंग एप्लीकेशन सॉफ्टवेर भी कहा जाता है, इस Wordpad को खोलने के लिए आपको अपने कंप्यूटर के स्टार्ट मेनू में जाकर Accessories को खोलना है तो आपको वहीँ पर Wordpad मिल जायेगा इस सॉफ्टवेर के माध्यम से आप अपने कंप्यूटर में लैटर या डॉक्यूमेंट जैसे कार्य कर सकते है Wordpad किसी कार्य को सुंदर बनाने के लिए बहुत से option user को प्रदान करता है जैसे की आप अपने डॉक्यूमेंट या लैटर में टाइप किये शब्द में color दे सकते है, शब्द का फॉण्ट बदल सकते है और इसमें अपने कार्य की हिसाब से बुल्लेट्स भी दे सकते है.

 

SNIPING TOOL

Windows में Sniping Tool के माध्यम से आप कंप्यूटर के अंदर किसी भी चीज का screen Short ले सकते है जब आप कंप्यूटर उपयोग करते है तो कंप्यूटर के अंदर कुछ ऐसी-ऐसी चीजें होती है जिनका हम प्रिंट नहीं निकल सकते है यह नहीं इंटरनेट पर भी कुछ ऐसी-ऐसी इनफार्मेशन होती है जिनक हम किसी प्रकार का प्रिंट नहीं निकाल सकते है तो ऐसी स्थति में कंप्यूटर के अंदर Sniping Tool का उपयोग किया जाता है आप इस टूल से कंप्यूटर के किसी भी एरिया या चीज का screen Short ले सकते है और उस screen Short की jpg . png या उसका प्रिंट निकाल सकते है। 

 

PAINT

कंप्यूटर के अंदर Paint tool के माध्यम से आप कम्प्टूयर के अंदर ड्रॉईंग कर सकते हो Paint tool के अंदर ऐसे-ऐसे टूल पाये जाते है जिन टूल की सहायता से आप अच्छी से अच्छी ड्रॉइंग कर सकते है यदि आपको अपने कंप्यूटर में ड्रॉइंग करना चाहते है और उस ड्राइंग का प्रिंट भी निकालना चाहते है तो आप कंप्यूटर के अंदर Paint tool का उपयोग कर सकते है यही नहीं आप Paint tool में बनाई हुई ड्रॉइंग का jpg या png फॉर्मेट फाइल बनाकर उसके किसी भी जगह शेयर कर सकते हो.

 

आशा करते कि MS WINDOWS से सम्बंधित आपको पूरी जानकारी मिल गई होगी आप MS WINDOWS के हर वो फंक्शन को जान गये होगें जो आपने MS WINDOWS में देखें है या फिर उनके नाम सुने है अब आपको MS WINDOWS के हर फंक्शन की बेसिक जानकारी मिल गयी होगी और यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित हुई होगी तो आप इसी तरह की जानकारी के हमारे ब्लॉग पर विजिट करते रहिये. 


 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *