GOOGLE PAGE PAR RANK KARE.

क्या आपको पता है कि, हम HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE

दोस्तों बहुत से ऐसे ब्लॉगर है जो अपने ब्लॉग का SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) तो करते है मगर वो अपने Hindi Blog के आर्टिकल को GOOGLE के पहले PAGE Rank नहीं करा पाते है तो आज हम इसी बता को ध्यान में रखते हुये आज जो चर्चा होने वाली कि आप HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE.


नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है कि कैसे आप SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के माध्यम से अपने BLOG के HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE और अपने ब्लॉग पर GOOGLE के माध्यम से TRAFFICE लेकर आये             

     तो आज हम केवल SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के अंदर HINDI KEYWORD को कैसे GOOGLE के पहले PAGE पर RANK करायें और इससे सम्बंधित हर बातों पर चर्चा करेगें और SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के अंदर आने वाली बहुत सी महत्वपूर्ण बातें जानेगें और सीखेंगे भी –

Google algorithm की सम्पूर्ण जानकारी
Seo कितने प्रकार के होते है
Seo लिंक बिल्डिंग क्या है
Seo कितने प्रकार के होते है

HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE ?

दोस्तों गूगल पर हिंदी या इंग्लिश किसी भी प्रकार के keyword रैंक कराना कोई आसान नहीं है, लेकिन हम जो अपने ब्लॉग पोस्ट को google पर रैंक कराते है वो प्रोसेस आपको बतायेगें बिल्कुल proof के साथ आप केवल अपने ब्लॉग में आर्टिकल लिखते इन्हीं प्रोसेस को ब्लॉग पोस्ट लिखते समय यूज़ करें आपकी post गूगल के पहले पेज पर जरूर रैंक करेगी और आपके ब्लॉग पर अच्छा-खासा ट्रैफिक आ सकता है ।

यदि आप आपका ब्लॉग wordpress पर है और आप अपने ब्लॉग का SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) करने के लिए YOAST SEO PLUGING का उपयोग करते है तो आपको यह प्रोसेस का यूज़ करना काफी आसान होगा।

 

HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE
HINDI KEYWORD को कैसे GOOGLE के पहले PAGE पर रैंक करायें।

चलिये अब बात करते है उस प्रोसेस की जो हम आपको बताने जा रहे है कि  HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE।

Step 1 – आप अपने ब्लॉग पोस्ट को कम से कम 800 लेकर 1000 शब्द लिखे इससे कम ना लिखे यदि इससे अधिक शब्द हो जाये तो यह आपकी पोस्ट काफी अच्छा है लेकिन ध्यान रखे इसके अंदर एक भी अन्य वेबसाइट या ब्लॉग के copy किये शब्द नहीं होना चाहिए कहने का मतलब आप इसके अंदर जरासा भी copy content ना डालेगें  ।

Step 2- आप अपने ब्लॉग पोस्ट में के टाइटल को जरुरत से ज्यादा लम्बा ना बनाये और साथ ही साथ आप अपने ब्लॉग पोस्ट में के टाइटल में Focus keyword को सुनिश्चित करें।

Step 3- आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल की शुरुआत में Focus keyword से ही स्टार्ट करें यानि  आर्टिकल के पहले पेराग्राफ में आपको focus keyword का यूज़ जरूर होना चाहिये ।

Step 4 – आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल का लम्बा पेराग्राफ ना बनाये आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल को इस प्रकार लिखे जिसमें छोटे- छोटे पैराग्राफ बने.

Step 5 – आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में focus keyword को H1, H2, H3 का रूप देवें और साथ ही साथ इनपर Blod फंक्शन का भी यूज़ करें ।

step  6-  आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में हो सके तो bullets का जरूर उपयोग करे।

step 7 – आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में कुछ जगह italic और Bold फंक्शन का यूज़ जरूर करें।

Step 8 -आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में अपनी ही ब्लॉग या वेबसाइट का एक internal लिंक जरूर देवें।

Step 9 – आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में एक exteral link जरूर देवें।

# ध्यान दें – आप अपनी ब्लॉग पोस्ट में एक ऐसी वेबसाइट या ब्लॉग का exteral link देवे जिस ब्लॉग या वेबसाइट का आर्टिकल का टाइटल आपकी ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल के टाइटल से मिलता-जुलता हो या फिर कोई पॉपुलर वेबसाइट या ब्लॉग का जो आपके कंटेंट से मैच होती हो । #

Step 10 – आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल के मेटा डिस्क्रिप्शन में एक बार Focus keyword को अनिवार्य रूप से जरूर उपयोग करें।

# ध्यान दें – मेटा डिस्क्रिप्शन में Focus keyword को दो बार ना लिखे यदि आप ऐसा करते हो तो यह keyword stuffing के अंदर आती है जो आपके पोस्ट और ब्लॉग के लिए ठीक नहीं है #

# ध्यान दें -आपके आर्टिकल के मेटा डिस्क्रिप्शन 120 Charactor से लेकर 160 Charactor की होनी चाहिये इसके अधिक ना जाने पाये । #

Step 11 – आप अपने keyword की density 1 लेकर 1 .5 तक रखे इससे अधिक बिल्कुल ना हो।

step -आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल में Alt tag का जरूर उपयोग करे।

# ध्यान दें – Alt tag का मतलब आप अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल के image का नाम वही रखना है जो आपने Focus keyword को चुना है और साथ ही साथ ब्लॉग के आर्टिकल में जितने भी इमेज डालोगे उनका नाम भी अपने Focus keyword के आधार पर ही रखना है। #

# ध्यान दें – आप अपने ब्लॉग पोस्ट को पब्लिश करने के बाद उसके यूआरएल को Google Fatch और Bing Index में जरूर send करें। #

# ध्यान दें – यदि आप ऊपर दी गई सभी step का उपयोग अपने ब्लॉग पोस्ट के आर्टिकल लिखते समय करते है तो आपका यह आर्टिकल गूगल के पहले पेज पर कुछ ही समय में जरूर रैंक कर जायेगा जिसका proof हम आपको नीचे देते है जो हमने इन्हीं step का use करके अपने ब्लॉग पोस्ट को रैंक कराया है । #

ध्यान दें – हम आपको Focus keyword के बारे में बार – बार बता रहे है तो आपके मन में सवाल चल रहा होगा की Focus keyword क्या है तो समझिये –

Focus keyword आपका वो keyword होता है जो आपके आर्टिकल के मुख्य नाम होता है जैसे – आपका आर्टिकल में अच्छे लैपटॉप या कंप्यूटर का जिक्र हुआ है तो आपका “Focus keyword” बनता है –

  • Best Laptop 
  • Best Computer 

HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE
HINDI KEYWORD को कैसे GOOGLE के पहले PAGE पर रैंक करायें

आशा करते है कि आपको जो हमने step बताइये है वो आप अच्छे से समझ गये होगें और SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) के माध्यम से अपने BLOG के HINDI KEYWORD KO KAISE GOOGLE PAGE PAR RANK KARE और किस तरह से करा सकते है और इससे सम्बंधि  तकनीक का यूज़ कैसे करे यह भी आप अच्छे से जान गये होगें और साथ ही साथ आपको यह जानकारी काफी हेल्पफुल लगी होगी  आप SEO (SEARCH ENGINE OPTIMIZATION ) से सम्बंधित और जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करते रहिये।


Internet से रुपये कैसे कमाये जाते है ?
Computer की संपूर्ण जानकारी संक्षेप में

BEST MOBILE TRACKER APP

neilpatel.com

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*