E-COMMERCE KE NUKSHAN KYA HAI

दोस्तों यदि आप कोई कंप्यूटर सम्बंधित विषयों का अध्ययन कर रहे हो तो आपको कंप्यूटर विषय से सम्बंधित परीक्षा में E-COMMERCE KE NUKSHAN KYA HAI यह प्रश्न पूछा गया होगा या फिर भविष्य में पूछा जा सकता है।


नमस्कार दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे है कि E-COMMERCE KE NUKSHAN KYA HAI ?

E-COMMERCE KYA HAI ?
E-COMMERCE KE PRAKAR
E-commerce ki viseshtayen kya hai

 

E-COMMERCE KE NUKSHAN KYA HAI ?

  • छोटे व्यापार को नुकसान।
  • कंप्यूटर और इंटरनेट का ज्ञान होना आवश्यक।
  • वस्तु को स्पर्श ना कर पाना।
  • जोखिम।
  • सामान प्राप्त करने में काफी देरी।

 

छोटे व्यापार को नुकसान – E-COMMERCE का सबसे बड़ा नुकसान निकल कर आ रहा है वो है व्यापार के छोटे व्यापारियों का। E-COMMERCE की वजह से छोटे व्यापारी काफी प्रभावित हुये है आज कल हर व्यक्ति घर बैठे छोटे से लेकर बड़े सामान इन E-COMMERCE वेबसाइट से आर्डर करके अपने स्थान पर प्राप्त कर रहे है जिससे कारण बहुत से छोटे-मोटे व्यापारी का सामान बहुत ही कम मात्रा में बीच रहा है जो हर एक व्यापारी के लिये चिंता का कारण बना हुआ है।

कंप्यूटर और इंटरनेट का ज्ञान होना आवश्यक-   E-COMMERCE वेबसाइट से सामान आर्डर करना और उस सामान का पेमेंट करना हर कोई व्यक्ति के बस की बात नहीं है E-COMMERCE वेबसाइट से केवल वहीं व्यक्ति सामान खरीद सकता है या बेच सकता है जिसे कंप्यूटर और इंटरनेट का बेसिक ज्ञान हो।

वस्तु को स्पर्श ना कर पाना– E-COMMERCE वेबसाइट से जब हमे कोई वस्तु खरीदना होती है तो हम उस वस्तु को खरीदने से पहले देख सकते है और उसके बारे में जानकारी ले सकते है लेकिन उस वस्तु को छू (स्पर्श)  कर नहीं देख सकते है

 जोखिम – E-COMMERCE वेबसाइट से सामान खरीदना भी हम कह सकते है की एक जोखिम का भी कार्य है क्योंकि जब हम E-COMMERCE वेबसाइट से सामान खरीदते है तो कभी -कभी कोई वेबसाइट की डिमांड होती है कि आपको इस सामान को पहले पेमेंट करना होगा यानि कि “सामान CASH ON DELIVERY ना होना ” उस स्थति में हम अपने सामान का पहले पेमेंट करने के लिए अपने डेबिट या क्रेडिट कार्ड का उपयोग करते है जो एक जोखिम का कार्य होता है।

सामान प्राप्त करने में काफी देरी –  जब कोई खरीददार E-COMMERCE वेबसाइट से सामान खरीदता है तो उस खरीदार को सामान हाल ही में प्राप्त नहीं होता है उस सामान को प्राप्त करने के लिए खरीदार को काफी इंतजार करना पड़ता है.

आशा करते है कि E-COMMERCE KE NUKSHAN से सम्बंधित जानकारी आपको अच्छे से समझ आ गई होगी और यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित हुई होगी तो आप इसी तरह की जानकारी के लिए हमारे ब्लॉग पर विजिट करते रहिये। 


एक्सेल में ब्लेंक सेल कैसे काउंट करें।

Spread the love